ब्रेकिंग न्यूज़

इरीना बोकोवा बोलीं, दुनिया शांति, सतत विकास बनाए रखने को प्रतिबद्ध ऐसे में सभ्यताओं के बीच संवाद महत्वपूर्ण, विकास को बढ़ावा दे सकते हैं Irina Bokova former Director-General of UNESCO said, the world is committed to maintaining peace and sustainable development, in such a situation, dialogue between civilizations is important, it can promote development



बीजिंग। संयुक्त राष्ट्र की एजेंसी यूनेस्को की पूर्व महानिदेशक इरीना बोकोवा ने सभ्यताओं के बीच संवाद को मानव सभ्यता के लिए एक महत्वपूर्ण प्रेरक शक्ति बताया है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने प्रस्ताव पारित कर 10 जून को सभ्यताओं के संवाद का अंतर्राष्ट्रीय दिवस स्थापित किया। यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण निर्णय है, जो संयुक्त राष्ट्र के मिशन के अनुरूप है और विश्व के विभिन्न देशों के लोगों और सभ्यताओं के बीच आपसी समझ व मान्यता को बढ़ाएगा। चीन की समाचार एजेेंसी शिन्हुआ के साथ एक साक्षात्कार में बोकोवा ने कहा कि सभ्यताओं के बीच संवाद के अंतर्राष्ट्रीय दिवस की स्थापना का निर्णय संयुक्त राष्ट्र के मूल इरादे और अवधारणा के अनुरूप है। संयुक्त राष्ट्र महासभा के कई हालिया प्रस्ताव संयुक्त राष्ट्र को सभ्यताओं के बीच संवाद का प्राकृतिक घर के रूप में परिभाषित करते हैं। इस तरह के संवाद सभी क्षेत्रों में मानव प्रयासों के समृद्ध और फलदायी विकास को बढ़ावा दे सकते हैं। 

इरीना बोकोवा ने कहा कि आज की दुनिया शांति और सतत विकास बनाए रखने जैसी कई चुनौतियों का सामना कर रही है और सभ्यताओं के बीच संवाद अधिकाधिक महत्वपूर्ण हो गई है। श्सभ्यताओं के बीच संवादश् अंतर्राष्ट्रीय संबंधों का उप-उत्पाद नहीं है, बल्कि मानव सभ्यता के लिए एक महत्वपूर्ण प्रेरक शक्ति और रचनात्मकता, नए विचारों के विकास और ज्ञान के आदान-प्रदान के लिए निरंतर प्रेरक शक्ति है। इरीना बोकोवा ने आशा व्यक्त की कि सभ्यताओं के बीच संवाद के अंतर्राष्ट्रीय दिवस की स्थापना से सभ्यताओं के आदान-प्रदान में संयुक्त राष्ट्र और यूनेस्को की गतिविधियां मजबूत होंगी और दुनिया भर के लोगों व सभ्यताओं के बीच आपसी समझ और मान्यता बढ़ेगी। 

12 जुलाई 1952 को जन्मी इरीना जॉर्जीवा बोकोवा बुल्गारिया की वरिष्ठ राजनीतिज्ञ हैं। वे यूनेस्को की 2009 से 2017 तक महानिदेशक रही हैं। बुल्गारिया में अपने राजनीतिक और कूटनीतिक करियर के दौरान इरीना बोकोवा 2 बार राष्ट्रीय संसद सदस्य और विदेश मामलों की उप मंत्री रहीं और प्रधानमंत्री झान विडेनोव के अधीन विदेश मामलों के अंतरिम मंत्री के रूप में कार्य किया। उन्होंने फ्रांस और मोनाको में बुल्गारिया के राजदूत के रूप में भी काम किया और यूनेस्को में बुल्गारिया की स्थायी प्रतिनिधि भी रहीं। बोकोवा ऑर्गनाइजेशन इंटरनेशनेल डे ला फ्रैंकोफोनी (2005-2009) में बुल्गारिया के राष्ट्रपति की निजी प्रतिनिधि भी थीं।

An appeal to the readers -

If you find this information interesting then please share it as much as possible to arouse people's interest in knowing more and support us. Thank you !

#worldhistoryofjune13 #InternationalAlbinismAwarenessDay

I Love INDIA & The World !

No comments

Thank you for your valuable feedback